biharjharkhandnewstoday

Search
Close this search box.

Follow Us:

Delhi :कमांडर बनाए गए विशेष पुलिस आयुक्त कृष्णैया, प्रगति मैदान में संभालेंगे जी-20 की जिम्मेदारी

Delhi: Special Commissioner of Police made Commander, will handle the responsibility of G-20

जी-20 सम्मेलन…
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार

देश में होने वाला जी-20 सम्मेलन प्रतिष्ठा का सवाल बना हुआ है। इसी को देखते हुए दिल्ली पुलिस के विशेष पुलिस आयुक्त को सम्मेलन को सफलतापूर्वक संपन्न कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। दिल्ली पुलिस के एक विशेष पुलिस आयुक्त को एक वेन्यू का कमांडर बनाया गया है। इस मामले में दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा गृहमंत्री को रिपोर्ट देंगे।

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जी-20 सम्मेलन के लिए दिल्ली पुलिस के विशेष पुलिस आयुक्त को कमांडर बनाया गया है। जी-20 सम्मेलन का मुख्य समारोह प्रगति मैदान में होगा। इस कारण प्रगति मैदान का कमांडर विशेष पुलिस आयुक्त आरएस कृष्णैया को बनाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से जी-20 सम्मेलन में आने वाले विदेश मेहमानों के लिए दिए जाने वाले डिनर का आयोजन स्थल तय नहीं हुआ। पर माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री की ओर से विदेशी मेहमानों को डिनर पुराने किले में दिया जाएगा। ऐसे में पुराने किले व डिनर के लिए वेन्यू कमांडर शालिनी सिंह को बनाया गया है।

32 होटल में ठहरेंगे मेहमान

जी-20 सम्मेलन में आने वाले विदेशी मेहमान दिल्ली व एनसीआर के करीब 32 होटल में ठहरेंगे। इनमें से करीब 22 से 23 होटल दिल्ली में हैं। ऐसे में इन होटलों को दो हिस्सों में बांटा गया है। एक हिस्से का वैन्यू कमांडर विशेष पुलिस आयुक्त रविंद्र सिंह यादव और दूसरे हिस्से का कमांडर विशेष पुलिस आयुक्त एचजीएस धालीवाल को बनाया गया है। सुरक्षा का कमांडर विशेष पुलिस आयुक्त मधुप तिवारी को बनाया गया है। कानून एवं व्यवस्था की जिम्मेदारी डा. सागरप्रीत हुड्डा को दी गई है। दिल्ली के ट्रैफिक का कमांडर विशेष पुलिस आयुक्त सुरेंद्र सिंह यादव को बनाया गया है। इन कमांडर की सभी तरह की पूरी जिम्मेदारी होगी।

प्रस्तुति देकर बता रहे हैं कैसे संभालेंगे जिम्मेदारी

सभी विशेष पुलिस आयुक्त दिल्ली पुलिस मुख्यालय में दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा के सामने प्रस्तुति देकर बता रहे है कि वह अपने जिम्मेदारी कैसे संभालेंगे। ये प्रस्तुति देकर बता रहे है कि उनका प्लान किया है। इनको कितना स्टाफ चाहिए, उनके पास कितना है, उन्हें कितनी गाड़ी चाहिए और क्या-क्या कर सकते हैं। विशेष पुलिस आयुक्त ने शनिवार को पुलिस मुख्यालय में प्रस्तुति देकर अपने प्लान के बारे में बताया था।

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस के सभी वरिष्ठ अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। अब ये अधिकारी अपने-अपने हिसाब से अपना प्लान बता रहे हैं। इसके बाद इस पर एक विस्तृत रिपोर्ट गृहमंत्रालय को सौंपी जाएगी।

जी-20 सम्मेलन के लिए 400 गाड़ियां आईं

जी-20 सम्मेलन के लिए दिल्ली पुलिस के पास दो दिन पहले 400 नई गाड़ियां आ गई हैं। इनमें 200 इर्टिगा और 200 बोलेरो हैं। अब ये देखा जा रहा है कि इन वाहनों को कहां और किस यूनिट में लगाया जाए। अफसरों का कहना है कि सम्मेलन तक इन वाहनों को संभाल कर रखा जाएगा, ताकि वह चमचमाती बनी रहे।

Source link

Spread the love

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज